X

हिन्दी भाषा एवं संप्रेषण / Hindi Bhasha Evam Sampreshan

By Dr. Kshama Pandey   |   Mahatma Jyotiba Phule Rohilkhand University
Learners enrolled: 1036
प्रस्तुत पाठ्यक्रम का निर्माण MOOCS के अंतर्गत हिंदी आनर्स (स्नातक स्तर) के विद्यार्थियों को केंद्र में रख कर किया गया है। जिसके अंतर्गत प्रथम सप्ताह में हिंदी भाषा की प्रकृति, स्वरूप संरचना तथा उसके विविध रूपों का वर्णन किया जाएगा। द्वितीय सप्ताह में व्याकरणिक संरचना  को स्पष्ट किया जायेगा।  इसी क्रम में तृतीय सप्ताह में भाषा लिपि, हिंदी वर्णमाला तथा उच्चारण सम्बन्धी भाषिक पक्षों पर विस्तार से प्रकाश डाला जायेगा । इसी का विस्तार करते हुए चतुर्थ एवं पंचम सप्ताह हिंदी वर्तनी एवं उच्चारण सम्बन्धी नियमों के अध्ययन पर केंद्रित होगा। षष्टम सप्ताह शब्द सम्पदा से आरम्भ होगा जिसमें संधि को भी विषय-वस्तु के रूप में सम्मिलित किया जायेगा। इस पाठ्यक्रम का सप्तम सप्ताह भाषा सम्प्रेषण कौशल पर केंद्रित होगा। आठवें एवं नवें सप्ताह में विराम चिन्ह, मुहावरे एवं लोकोक्तियों के शिक्षण के साथ रचना लेखन पर विस्तार से प्रकाश डाला जायेगा। अंतिम अर्थात् दशम सप्ताह में विभिन्न प्रकार के पत्रों के लेखन का शिक्षण  प्रदान किया जायेगा।
Summary
Course Status : Upcoming
Course Type : Elective
Duration : 12 weeks
Category :
  • Language
Credit Points : 4
Level : Undergraduate/Postgraduate
Start Date : 08 Jan 2024
End Date : 31 Mar 2024
Enrollment Ends : 29 Feb 2024
Exam Date : 19 May 2024 IST
Exam Shift: :

Shift-I

Note: This exam date is subjected to change based on seat availability. You can check final exam date on your hall ticket.


Page Visits



Course layout

पाठ्यक्रम विवरण 

1. भाषा की परिभाषा एवं उसका स्वरूप 
2. भाषा का स्वरूप एवं विशेषतायें 
3. भाषा के विविध रूप
4. हिंदी भाषा की व्याकरणगत विशेषतायें
5. संज्ञा के विकारी तत्व एवं क्रिया भेद
6. हिंदी भाषा की विशेषतायें : कारक एवं विभक्ति
7. भाषा की विशेषतायें : अन्विति एवं पदक्रम
8. हिंदी भाषा की अव्यय सम्बन्धी विशेषतायें
9. हिंदी भाषा एवं लिपि
10. हिन्दी ध्वनि समूह तथा  वर्णमाला का इतिहास
11. हिन्दी वर्णमाला: स्वर एवं व्यंजन
12. उच्चारण सम्बन्धी भाषिक पक्ष (बलाघात, अनुतान एवं स्वराघात )
13. हिन्दी वर्तनी एवं भाषा में अनुप्रयोग
14. हिंदी वर्तनी लेखन के नियम
15. वर्तनी और उच्चारण सम्बन्धी अशुद्धियाँ : कारण और निवारण
16. हिंदी भाषा एवं शब्द भेद
17. शब्द सम्पदा
18. संधि (अर्थ, परिभाषा एवं भेद )
19. संधि के भेद (स्वर संधि )
20. व्यंजन संधि एवं विसर्ग संधि  
21. भाषा संप्रेषण का स्वरूप
22. भाषा सम्प्रेषण एवं श्रवण कौशल
23. मौखिक आत्म प्रकाशन
24. पठन कौशल  
25. लेखन कौशल  
26. वाक्य रचना
27. वाक्य के भेद
28. वाक्य भेद  एवं वाक्य रूपांतरण संबंधी अशुद्धियाँ
29. विराम चिन्ह
30. भावार्थ एवं व्याख्या
31. संक्षेपण लेखन  
32. अनुवाद
33. भाव-पल्लवन
34. आशय, निबंध एवं प्रतिवेदन लेखन  
35. शब्द प्रयोग : मुहावरे एवं लोकोक्तियाँ  
36. समास 
37. पत्र लेखन 
38. अनौपचारिक एवं औपचारिक पत्र
39. प्रशासकीय पत्र एवं सरकारी पत्र
40. सरकारी पत्र के प्रकार

Books and references


संदर्भ सूची 

• अवनीश कुमार (सं॰) (2019),  देवनागरी लिपि तथा हिंदी वर्तनी का मानकीकरण, केंद्रीय हिंदी निदेशालय, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार 
• अनंत चौधरी (1973), नागरी लिपि और हिंदी वर्तनी, बिहार हिंदी ग्रंथ अकादमी
• उदय नारायण तिवारी, भाषा शास्त्र की रूपरेखा 
• उदय नारायण तिवारी, हिंदी भाषा का उद्भव और विकास, भारती भंडार, इलाहाबाद
• कपिल देव द्विवेदी आचार्य, अर्थ विज्ञान और व्याकरण दर्शन, हिंदुस्तान एकेडमी, इलाहाबाद 
• कामता प्रसाद गुरु (2018) हिंदी व्याकरण, प्रभात प्रकाशन, नई दिल्ली 
• के॰के॰ सुखिया, हिंदी ध्वनियाँ और उसका शिक्षण, रामनारायण लाल, इलाहाबाद
• के॰क्षत्रिया, मातृभाषा शिक्षण, विनोद पुस्तक मंदिर, आगरा 
• कौशिक, जय नारायण, हिन्दी शिक्षण, हरियाणा साहित्य अकादमी, पंचकूला 
• गरिमा श्रीवास्तव, भाषा और भाषा विज्ञान, संजय प्रकाशन, नई दिल्ली
• गोपीनाथ श्रीवास्तव, हिन्दी कार्यालय निर्देशिका, सामयिक प्रकाशन, लखनऊ 
• चंद्रधर शर्मा गुलेरी, पुरानी हिंदी, नागरी प्रचारणी 
• जी॰एल॰ टंडन, एम॰के॰सरन, सचिवालय  नोटिंग ड्राफ़्टिंग ईवीएम प्रेस राइटिंग : प्रकाशन केंद्र लखनऊ 
• देवेंद्र नाथ शर्मा, राष्ट्र भाषा हिंदी: समस्या और समाधान, लोकभारती प्रकाशन, इलाहाबाद 
• नवीन, देवशंकर, अनुवाद अध्ययन का परिदृश्य, प्रकाशन विभाग, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार 
• निरंजन कुमार सिंह, माध्यमिक विद्यालयों में हिंदी शिक्षण, राजस्थान हिंदी ग्रन्थ अकादमी, जयपुर 
• नीता गुप्ता (सं॰) अनुवाद शतक विशेषांक, भारतीय अनुवाद परिषद 
• भोला नाथ तिवारी, हिंदी भाषा का संक्षिप्त इतिहास , किताब महल, इलाहाबाद 
• मानक हिंदी व्याकरण और रचना, राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद,नई दिल्ली  
• राधाकांत मिश्र (सं॰) (2019),  हिंदी व्याकरण और प्रयोग , केंद्रीय हिंदी निदेशालय, माध्यमिक शिक्षा परिषद,ओड़िशा
• राम चंद्र वर्मा, हिंदी प्रयोग, लोक भारती प्रकाशन, इलाहाबाद 
• लीलराम (2017) हिंदी भाषा एवं व्याकरण , बुक आर्केड 
• ले॰ प्रभु दयाल, कार्यालयीन हिन्दी 
• वासुदेव नंदन प्रसाद, आधुनिक हिंदी व्याकरण और रचना, भारती भवन, पटना 
• सीताराम चतुर्वेदी, भाषा की शिक्षा, हिंदी साहित्य कुटीर, वाराणसी 
• हरदेव बाहरी, (2019),  हिंदी: शब्द-अर्थ प्रयोग , लोकभारती प्रकाशन, इलाहाबाद
• हरिमोहन, अनुवाद विज्ञान और संप्रेषण, तक्षशिला प्रकाशन, दरियागंज नयी दिल्ली 

Instructor bio

Dr. Kshama Pandey

Mahatma Jyotiba Phule Rohilkhand University

Dr. Kshama Pandey has been working as an Associate Professor in the Department of B.Ed./M.Ed., MJP Rohilkhand University, Bareilly.  She has more than 15 years of teaching experience. She has done post-graduation from the University of Allahabad. She has been awarded her D.Phil. Degree from the University of Allahabad. Her research interests include the Method of Teaching Hindi, ICT-based Innovative Pedagogy, and Human Rights and peace Education. An internationally edited book “Handbook of Research on Promoting Global Peace and Civic Engagement through Education” has been published by IGI Publication, USA. She is the section editor of an edited reference book “Handbook on Mobile Teaching and Learning” published by Springer, New York.

She is the executive editor of an International Journal, named Omniscient, published by MJP Rohilkhand University, and also an editorial board member of four international journals i.e. Computers & Education, Elsevier, Independent Journal of Management & Production, Brazil, Sukimat Multidisciplinary Research Journal, University of Bauie, Philippines and European Journal of Applied Social Science Research (EJASSR). 75 Research Papers have been published in National and International Journals. Her various chapters have been published in edited books with national and international repute like Springer, IGI Global Publication, and International Book Series, USA & Infotech, England, etc. She has also secured the best paper award for two Research Papers. Besides, she has presented 55 papers in international seminars /conferences and more than 70 in national seminars /conferences. She has life membership in various educational organizations i.e. IATE, IRA, AIAERA, etc. She also served as a resource person in different workshops organized by NEUPA, NCERT, CASE, IUCTE, & IASE. Recently, she has completed a Project “Effect of design thinking on reflective engagement and innovation of pupil teachers in blended learning environment” by IUCTE, CASE, and doing another project funded by ICSSR, New Delhi.



Course certificate

·         The course is free to enroll and learn from.

·         However, if you wish to get a certificate, you need to register and appear for a proctored exam.

·         Date and time of Exam

·         If you succeed in the examination, a certificate will be issued by the host university (Mahatma Jyotiba Phule Rohilkhand University, Bareilly). All related information will be notified on SWAYAM platform.

·         Assessment: 30% for in-course assessment, 70% for end-term proctored exam.



MHRD logo Swayam logo

DOWNLOAD APP

Goto google play store

FOLLOW US